हरियाणा के 22 लाख लोगो से टकरा कर हार गया कोरोना, बिना दवाई खाये हुए ठीक

News24NCR/Chandigarh: महामारी कोरोना का ग्राफ लगातार हर दिन बढ़ता जा रहा है। बात अगर प्रदेश की करें तो यहां संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है। हरियाणा में कुल मरीजों की संख्या 11 हज़ार होने वाली है। जिनमें से एक्टिव केस 22 हज़ार के करीब हैं । कल तक के आकड़ों के अनुसार 2457 नए कोरोना केस आए हैं। जबकि 24 मरीजों ने दम तोड़ दिया है। फरीदाबाद में दो, अंबाला में दो, पानीपत में एक, करनाल में तीन, हिसार में चार, पंचकूला में एक, झज्जर में एक, कुरुक्षेत्र में तीन, नूहं में एक, सिरसा में दो, यमुनानगर में दो, फतेहाबाद में दो मरीजों ने संक्रमण से मौत हुई है।

ऐसे बहुत से लोग हैं जिनमें संक्रमण आया है लेकिन उन्हें पता ही नहीं चला। यहां का रिकवरी रेट थोड़ा बढ़कर 78.72 प्रतिशत हो गया है। वहीं संक्रमण की दर और बढ़कर 6.54 प्रतिशत हो गई है।

किसी भी राज्य में इस तरह मामले अगर बढ़ते हैं तो सरकार को आश्वासन देना होता है कि सबकुछ काबू में हैं और इसी मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दावा किया है कि हमारे पास 30 सितंबर तक बनने वाले हालातों से निपटने के लिए पर्याप्त इंतजाम हैं। अब हम 15 अक्तूबर तक बनने वाले हालात से लड़ने की प्लानिंग कर रहे हैं।

समूचे भारत में सीरो सर्वे चलाया गया है और हरियाणा में सीरो सर्वे में ये बात सामने आई है कि करीब 22 लाख संक्रमित हुए और अपने आप ठीक हो गए। सीएम के अनुसार प्रदेश सरकार इस बीमारी से लड़ने के हर संभव प्रयास कर रही है।

महामारी ने किसी के साथ भेदभाव नहीं कर रही है आम आदमी हो या मुख्यमंत्री सभी को अपना शिकार बना रही है। मनोहर लाल अब कोरोना संक्रमण से पूरी तरह स्वस्थ है और कामकाज में जुटे हुए हैं। सीएम ने अपने एकांतवास का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने कई बरसों से इतना आराम नहीं किया। जितना अब किया। वे रूटीन में 5 से 6 घंटे सोते हैं। मगर एकांतवास में वे 12 से 13 घंटे तक सोए, पुस्तकें पढ़ी व टीवी देखा।