स्वच्छ भारत अभियान को धूल चटा रही चीनी कम्पनी ईको ग्रीन, फरीदाबाद में लगे गंदगी के ढेर

News24NCR/Faridabad: स्वच्छ भारत अभियान जिस ज़ोर शोर से पूरे देश में चलाया गया था, शहर की हालात देखने के बाद अब वो जोश धीरे धीरे कम होता नज़र आ रहा है। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने भी स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत फरीदाबाद में खुद झाड़ू लगा कर की थी। इसी के साथ ही फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी की सूची में भी स्थान मिला था। वही दूसरी और सर्वेक्षा स्वछता अभियान में फरीदाबाद को गंदगी में 19वा स्थान प्राप्त हुआ है। तो इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि फरीदाबाद अब कितना स्मार्ट हो चुका है ।

साफ सफाई का ज़िम्मा भी सरकार ने चाईनीज कंपनी इको  ग्रीन को दिया है ।बता दे कि भारत सरकार  द्वारा इको ग्रीन कंपनी  को लगभग 20 साल का कॉन्ट्रैक्ट दिया गया है। भारत और चीन के वर्तमान सम्बंध भी किसी से छिपे नहीं हैं, चीन हर चीज़ में धोखा धड़ी कर रहा है, अब इको ग्रीन ने भी अपनी रंगत दिखानी शुरू कर दी है। बेशक इको ग्रीन कम्पनी भारत में कॉन्ट्रैक्ट पर काम कर रही है लेकिन अपना काम सही से ना करके इको ग्रीन ने दिखा दिया है कि आखिरकार है तो वो चीनी  कंपनी ही।

ऐसी समस्यायें पूरे फरीदाबाद में खुलेआम देखी जा सकती है। काफ़ी दिनों तक सोसाइटियों का कूड़ा उनके दरवाज़ों पर ही पड़ा रहता है, जिस से साफ़ पता चलता है की चीनी कम्पनी अपना काम बेहतर ढंग से नहीं कर रही है। कूड़ा इकट्ठा होने के कारण काफी स्थानीय लोगो को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है, कूड़े में से बदबू आने के कारण लोगो का सड़क से गुजरना भी मुश्किल हो रहा है। गंदगी बढ़ने के कारण बीमारियों का खतरा भी बढ़ रहा है।

एक तरफ कोरोना काल ने जनजीवन अस्त व्यस्त किया हुआ है वही दूसरी और इस तरह की समस्या भी अपनी रफ्तार पकड़ रही है। कोरोना से बड़ा खतरा हमारे शहर की गंदगी है जिसे हम सबको निजात पाने की जरूरत है ।

लेकिन इसके लिए सरकार और जनता दोनों को सहयोग करना होगा। अकेले प्रशाशन शहर की गंदगी का सफाया नही कर सकती, इसके लिए जनता का सहयोग भी उतना ही जरूरी है ।