सोसाइटीयों में बाउंसरों की जगह लगाए जाएँगे चौक़ीदार, जिम मालिक भी घटिया सप्लिमेंट नहीं बेच सकेंगे: पुलिस कमिश्नर

News24NCR/Faridabad: पुलिस कमिश्नर ने एनआईटी जोन के डीसीपी, एसीपी और थाना एवं चौकी प्रभारियों के साथ की बैठक में निर्देश दिए की सोसाइटी में सुरक्षा के नाम पर रखे गए दहशत फैलाने वाले बाउंसर को हटा कर उनकी जगह चौकीदार को रखें, सोसाईटी प्रधान।

एक्सीडेंट के मामले में घायल को तुरंत हॉस्पिटल भेजना सुनिश्चित करें।पुलिस इस विवाद में ना पड़े कि उस थाना का एरिया है इस थाने का एरिया है, हमारा फर्ज घायल की जिंदगी बचाना होना चाहिए ।

जिम मालिक/ ट्रेनर, जिम मे एक्सरसाइज करने वाले युवाओं को अच्छी गुणवत्ता वाले सप्लीमेंट्स ही बेचें लालच में उनको नशा ना दें अन्यथा उन पर की जाएगी कानूनी कार्यवाही

पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह ने आज अपने ऑफिस सेक्टर 21C में एनआईटी जोन के डीसीपी डॉक्टर अर्पित जैन सहित सभी एसीपी और थाना एवं चौकी प्रभारियों के साथ बैठक की।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि पुलिसकर्मी जिस बहादुरी और संकल्प के साथ ड्यूटी कर रहे हैं वह बहुत ही काबिले तारीफ है इसको जारी रखें और जनता की सेवा करें।

ओ पी सिंह ने आगे बताया कि अभी तक फरीदाबाद पुलिस अपना कार्य बहुत अच्छे से कर रही है हमें इस कार्य को आगे बढ़ाते हुए अपने एरिया के बदमाशों को काबू करके फरीदाबाद में घटित होने वाले अपराधों पर लगाम लगानी है।

थाना प्रभारी अपने एरिया की सोसाइटी या अपने एरिया में पड़ने वाले गाँव में जाकर वहां के प्रधान/सरपंच से बातचीत करें और उनकी समस्याओं को उनकी सुविधा के अनुसार ही हल करें।

सोसायटी के मालिकों को संदेश देते हुए पुलिस कमिश्नर ने कहा कि सोसाइटी में सुरक्षा के लिए रखे गए बाउंसरों की वजह से लोगों में दहशत का माहौल पैदा होता है इसलिए वहाँ से बाउंसरों को हटा कर उनकी जगह चौकीदार को रखें।

प्लेसमेंट एजेंसी मालिको से मिटिग कर चेक करें की कहीं वहां पर कार्य करने वाले कर्मचारियों का शोषण तो नहीं हो रहा। जसरतमन्द को जो मेड / सहायक उपलब्ध कराते हैं उसमें कितना कमीशन खाते हैं और जो मेड/घरेलू सहायक हैं उनको रखने वाले उचित सैलरी दे रहे हैं?

जिस मार्किट में ट्रैफिक जाम रहता है वहां पर मार्किट प्रधान, व्यापार मंडल से मीटिंग करके दुकानों के आगे पिली पट्टी लगवाएं जिससे दुकानदार उस पीली पट्टी से आगे सड़क पर अतिक्रमण न कर पाए।

बीट ऑफिसर अपने थाना प्रभारी को अपनी बीट एरिया के हालातों की जानकारी दें और प्रभारी बीट ऑफिसर के माध्यम से उसके एरिया के लोगों से मुलाकात करें।

पुलिस कमिश्नर ने निर्देश दिए कि थाना प्रभारी एक सूची तैयार करें जिसमें उनके एरिया के आदतन अपराधियों का ब्यौरा दर्ज हो जिससे यदि आपके एरिया में कोई अपराध घटित होता है तो सबसे पहले जो अपराधी आप की सूची में शामिल है उनसे पूछताछ की जा सके और अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ा जा सके।

आगे बताते हुए पुलिस कमिश्नर कहते हैं कि हमें सभी वर्गो के हितों को ध्यान में रखते हुए ही अपना निर्णय लेना है। गरीब व्यक्ति के प्रति अपनी संवेदनशीलता दर्शाएँ और उनकी मदद करने की हर संभव कोशिश करें जिससे कि प्रत्येक व्यक्ति का पुलिस के प्रति भरोसा कायम हो सके।

साथ ही उन्होंने बताया कि उनकी एरिया में घटित होने वाले छोटे-छोटे अपराध जैसे कि शराब जुआ चोरी इत्यादि पर लगाम लगाएं क्यूँकी यह छोटे-छोटे अपराध ही बड़े अपराध घटित होने का कारण बनते हैं।