सिद्धदाता आश्रम में स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी ने भगवान को रक्षा सूत्र बांधकर देश में सुख शांति के लिए की प्रार्थना

News24NCR/Faridabad: सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम एवं श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम रक्षा बंधन के अवसर पर अधिपति जगदगुरु स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने भगवान श्री लक्ष्मी नारायण को रक्षा सूत्र बाँधा और देश में सुख शांति के लिए प्रार्थना की। इस अवसर पर स्वामीजी ने कहा कि रक्षा बंधन वास्तव में एक दूसरे के प्रति भावनाओं  के प्रकटन का दिवस है। इस दिन जहाँ बहन भाई को रक्षा सूत्र बांधती है वहीँ पुरोहित भी यजमान की कलाई पर रक्षा का सूत्र बांधते हैं।

इसी प्रकार भक्त भगवान् के और शिष्य गुरु के रक्षा सूत्र बांधकर संबंधों में नई ऊष्मा देते हैं। जगद्गुरु स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी ने कहा कि वास्तव में रक्षा सूत्र अपने से श्रेष्ठ से रक्षा, सहायता का वचन लेने की परंपरा है। इससे पहले उन्होंने वैकुंठवासी स्वामी सुदर्शनाचार्य जी के मूर्त रूप को रक्षा सूत्र बाँधा वहीँ याचकों ने श्री गुरु महाराज को रक्षा सूत्र बाँधा।

गौरतलब है कि शासन प्रशासन के निर्देशानुसार श्री सिद्धदाता आश्रम को भक्तों के लिए बंद रखा गया है और समस्त प्रक्रियाएं आश्रम के याचकों द्वारा ही सम्पूर्ण की जा रही है। आश्रम में रहने वाले याचकों एवं सेवादारों को भी पूरी साफ सफाई और फेसमास्क आदि के साथ ही रखा गया है।