लॉकडाउन में कुछ ऐसी रही फरीदाबाद की सड़के, शहर रहा वीरान: देखें तस्वीरें

News24NCR/Faridabad: कोरोना काल का वो शुरूआती समय जब पूरा देश कोरोना के नाम से ही काँप रहा था, तब पूरे देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए लॉकडाउन की घोषणा कर दी थी। लॉकडाउन एक प्रकार का कर्फ्यू ही होता है जिसमे आमजन की सभी प्रकार की गतिविधियों पर तत्काल रोक लगा दी जाती है। हालाँकि शुरूआती समय में कोरोना देश में इतना नहीं फैला था लेकिन शायद कहीं ना कहीं लोगो की लापरवाही व सरकार के ढुलमुल रवैये के कारण आज कोरोना देश भर में पैर पसार चुका है।

शुरुआत के समय में कोरोना ना के बराबर था लेकिन लोगो के मन में डर साफ़ देखा जा सकता था लेकिन अब इसके विपरीत हालात हो चुके है। अब कोरोना की गिनती में हमारा देश विश्व में दूसरे नंबर पर पहुँच गयी है लेकिन लोगो के मन से कोरोना का डर निकल चुका है। और सड़को पर बिना मास्क के लोग बेपरवाह घुमते नजर आ रहे हैं, जो कि कोरोना को फैलाने का प्रमुख कारण है क्यूंकि कोरोना एक दूसरे के संपर्क में आने से ही फैलता है जिसके लिए सरकार अनेको बार लोगो को जागरूक कर चुकी है लेकिन लोगो कि लापरवाही सरकार के हर संभव प्रयास को ठेंगा दिखने का काम कर रहा है।

ऐसा भी नहीं है कि लोग हमेशा से ही इतने लापरवाह रहे हो। शुरूआती समय के 21 दिनों में लोगो ने लॉकडाउन का पूरे मन से पालन किया था। लेकिन एक आम आदमी जो रोज गड्ढा खोदकर पानी पीटा हो उसके लिए अपनी आजीविका के साधन ख़त्म होने के बाद जीवन काटना मुश्किल होने लगा, जी हाँ हम बात कर रहे है मजदूर वर्ग कि, जैसे जैसे लोगो कि जमापूंजी ख़त्म होने लगी वैसे वैसे लोगो को आजीविका के लिए सड़को पर फिर से लौटना ही पड़ा।

पहले 21 दिनों के लॉकडाउन में शहर कि क्या हालात थी ये आप इन तस्वीरो में देखिये