रामायण के राम का छलका दर्द, बोले आज तक किसी ने नहीं किया सम्मानित।

News24NCR/Delhi: लॉकडाउन में दूरदर्शन पर रामायण के लौटने से सीरियल के सारे स्टार्स एक बार फिर सुर्ख‍ियों में आ गए हैं. शो में राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल की चर्चा सबसे ज्यादा है. लेकिन क्या आप जानते हैं, इतने लोकप्रिय किरदार को निभाने के बावजूद आज तक उन्हें किसी सरकार द्वारा सम्मान‍ित नहीं किया गया है. इस बात का खुलासा खुद एक्टर ने ट्वीट के जरिए दिया है. 

दरअसल, ट्व‍िटर पर एक पोर्टल से सवाल-जवाब के दौरान अरुण गोव‍िल ने इस बात का खुलासा किया. पोर्टल ने अरुण से जब पूछा कि अभ‍िनय जगत खासकर रामायण में योगदान के बाद उन्हें किसी पुरस्कार से सम्मान‍ित नहीं किया गया. इस पर जवाब देते हुए अरुण ने कहा- ‘चाहे कोई राज्य सरकार हो या केंद्र सरकार, मुझे आज जक किसी सरकार ने कोई सम्मान नहीं दिया है. मैं उत्तर प्रदेश से हूं लेकिन उस सरकार ने भी मुझे आज तक कोई सम्मान नहीं दिया. और यहां तक कि मैं पचास साल से मुंबई में हूं, लेकिन महाराष्ट्र की सरकार ने भी कोई सम्मान नहीं दिया है.’ रामायण में उनके अनूठे प्रदर्शन के बावजूद कोई सम्मान ना मिलने का दर्द अरुण की इन बातों से साफ झलकता है. 

रामायण के बाद कर‍ियर खत्म हो गया- अरुण

अरुण गोविल ने रामायण में राम का रोल निभाने के बाद भी कई फिल्मों और सीरियल्स में काम किया. लेकिन रामायण ने उनकी ऐसी पहचान बनाई कि उनके द्वारा निभाए दूसरे किरदार राम के आगे ट‍िक नहीं पाए. खुद अरुण कहते हैं कि रामायण में काम करने के बाद उनका करियर खत्म सा हो गया. वो कहते हैं- ‘रामायण के बाद मैंने कई सीरियल्स में काम किए. लेकिन मेरी राम वाली छवि लोगों के मन पर ऐसी हावी थी, कि मैं उस कैरेक्टर से कभी बाहर ही नहीं आ पाया. मुझे रामायण से पहले तो फिल्में मिलती थी लेकिन बाद में नहीं मिली.

अरुण गोविल रामायण के रीटेलीकास्ट के बाद से काफी चर्चा में आ गए हैं. उनके अलावा लक्ष्मण यानी सुनील लहरी और सीता यानी दीपिका चिखलिया भी सुर्ख‍ियों में बने हुए हैं. सभी सोशल मीडिया पर काफी एक्ट‍िव हो गए हैं. वे रामायण की शूट‍िंग के दौरान के अपने अनुभव बताते रहते हैं.