मिट्टी की दीये भरेंगे जीवन में रंग, फरीदाबाद में शुरू हुई मुहिम

News24NCR/Faridabad: कोरोना संकट के इस दौर में रोजगार से वंचित नागरिकों की मदद को अग्रिम चलो आगे बढ़ें चैरिटेबल ट्रस्ट आगे आया है। रोशन दिवाली प्रोजेक्ट की शुरुआत करके इस ट्रस्ट ने ऐसे नागरिकों के जीवन में खुशियों के रंग भरने की पहल की है, जो इन दिनों आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। बड़खल क्षेत्र की जमाई कालोनी की कई महिलाओं को संस्थान ने मिट्टी के साधारण दीयों के साथ ही ब्रश और रंग भी उपलब्ध करा दिया है।

जमाई कालोनी निवासी सोनिया ने बताया कि उनके पति मजूदरी करते हैं। इन दिनों काम नहीं है। अब वह खुद दीये बनाकर कुछ कमा लेंगी। सोनिया, प्रीति और रुकमणी जैसी कई महिलाएं अब इन दीयों को आकर्षक रूप देंगी। इसके बाद संस्थान के सदस्य ही इन आकर्षक दीयों की बिक्री करेंगे। जो भी रुपये आएंगे, इन जरूरतमंद को ही प्रदान किए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट के मुख्य संयोजक हिरेंद्र लुधानी, अध्यक्षा मंजू यादव, सह संयोजक पूजा पंवार, सचिव प्रतिमा लुधानी तथा कोषाध्यक्ष कुलदीप सिंह ने मिलकर अपने सहयोगियों से मिलकर मिट्टी के दीये, रंग और ब्रश इकट्ठे किए हैं। जरूरतमंद को किया जा रहा प्रशिक्षित

रोशन दिवाली प्रोजेक्ट के मुख्य संयोजक हिरेंद्र लुधानी ने बताया कि उन्होंने बड़खल क्षेत्र के साथ ही अन्य कई क्षेत्रों के 100 से अधिक गरीब नागरिकों की सूची बना ली है। कई ऐसे लोग हैं, जो इधर-उधर कबाड़ बीन कर गुजारा करते हैं। दिहाड़ी मजदूर हैं, मगर इन दिनों काम के अभाव में परेशान हैं। हमने इन सभी को अपनी तरफ से मिट्टी के बर्तन और रंग दिए जा रहे हैं। हमारा मकसद है कि इनके हाथ खाली न रहें और इनकी दिवाली रोशन रहे। ट्रस्ट की प्रधान मंजू यादव ने बताया कि हमारे देश में कई त्योहार आते हैं। हम आगे भी प्रयास करेंगे कि कोई भी गरीब परेशान न रहे। गरीब को आर्थिक मदद न देकर स्वावलंबन से जोड़ा जाएगा। मंजू ने बताया कि सेक्टर-16 साईं मंदिर के बाहर बहुत से लोग हाथ फैला कर गुजारा कर रहे हैं। हम इनको भी अपने अभियान के साथ जोड़ रहे हैं, ताकि किसी को मांगने की जरूरत न पड़े। खुद काम करेंगे, तो आत्मविश्वास पैदा होगा।