फरीदाबाद स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही से शहर में फैल रहा कोरोना? पढ़े रिपोर्ट!

News24NCR/Faridabad: फरीदाबाद में कोरोना वायरस को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग कितना गंभीर है, इस एक घटना से सच सभी के सामने आ जाएगा। जिले में कोरोना के केस तेज गति से तो बढ़ ही रहे हैं, साथ ही शहर में गायब हुए कोरोना पॉजीटिव भी एक बड़ा मामला है। लेकिन अब एक कोरोना सक्रंमण से जुड़ा एक ऐसा मामला सामने आया है, जो आपको हैरत में डालने के लिए काफ़ी है कि स्वास्थ्य विभाग इतनी बड़ी गलती कैसे कर सकता है। फरीदाबाद के चीफ मेडीकल आफिसर के सरकारी निवास के पास खुले में पीपीई किट, मास्क व दस्ताने पड़े मिले हैं। यह एक ऐसा गंभीर मामला है, जोकि हजारों लोगों के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है। साथ ही इस घटना से यह भी साबित हो रहा है कि स्वास्थ्य विभाग खुद कोरोना वायरस फैलाने का काम कर रहा है।

सीएमओ निवास के पास कहां से आया ये खतरनाक सामान-

अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि पीपीई किट, दस्ताने व मास्क बादशाह खान अस्पताल के चीफ मेडीकल आफिसर के घर के पास कहां से आ गए और वहां इन्हें किसने फेंका। लेकिन इस घटना से यह जरूर साबित होने लगा है कि इस बीमारी के प्रति स्वास्थ्य विभाग इतना लापरवाह हो चुका है कि अब उन्हें जिले में फैलते कोरोना से कोई लेना देना नहीं है।  उल्लेखनीय है कि फरीदाबाद जिले में कोरोना का प्रकोप दिनों दिन बढ़ता जा रहा है।

इसको रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग किस स्तर पर काम कर रहा है, ये अब किसी को बताने की जरूरत नहीं है। इस्तेमाल किए गए मास्क, पीपीई किट व दस्ताने से कोरोना के सकं्रमण तेजी से फैलता हैं। विभाग व सरकारें स्वयं इसका प्रचार करती हैं कि इस्तेमाल मास्क, किट पीपीई किट व दस्ताने को सार्वजनिक स्थानों पर नहीं फेंका जाना चाहिए। इन्हें गड्ढे में मिटी के अंदर दबाना चाहिए, ताकि इनके कीटाणु मिट्टी के भीतर दफन हो जाएं और उनसे संक्रमण फैलने का खतरा ना रहे। लेकिन स्वास्थ्य विभाग इस घटना से पूरी तरह से अंजान हैं और वह इस बारे में ना तो कुछ जानना चाहते हैं और ना ही सुनना चाहते हैं।

इस बारे में बादशाह खान अस्पताल के नोडल अधिकारी डा. रामभगत से फोन पर बात करनी चाही तो उनसे सम्पर्क नहीं हो पाया। इसके चलते स्वास्थ्य विभाग से उनका अधिकारिक पक्ष नहीं मिल पाया है। बता दें कि फरीदाबाद जिले में कोरोना से अब तक सौ से अधिक मौतें हो चुकी हैं और कुल पॉजीटिव की संख्या भी 5195 पर पहुंच चुकी है। प्रतिदिन कोरोना पॉजीटिव के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। राज्य भर में फरीदाबाद कोरोना को लेकर पहले नंबर पर आ चुका है, इसके बावजूद यह बड़ी लापरवाही इस शहर पर भारी ना पड़ जाए।