फरीदाबाद में कोरोना जाँच में लापरवाही कर रही प्राइवेट लैब, स्वस्थ्य विभाग परेशान

News24NCR/Faridabad: फरीदाबाद में एक लैब पर कोविड-19 नियमों की धज्जियां उड़ाने का आरोप लगा है। आरोप है कि बिना अनुमति व जानकारी दिए यह लैब धड़ाधड़ कोरोना मरीजों के सैंपल इकठ्ठे करने के धंधे में लग गई है। जिससे स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ गई है। शिकायत मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ने इस लैब संचालक के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी है।

  • अपने ही धंधे में जुटी है ये लैब-

कोरोना को नोडल आफिसर डा. रामभगत ने बताया कि यह प्राईवेट लैब ना केवल अस्पतालों से लोगों के कोरोना सैंपल इकठ्ठे कर रही है, बल्कि लैब के कर्मचारी घरों पर जाकर भी लोगों के सैंपल ले रहे हैं। यह एक खतरनाक स्थिति है और इसके चलते स्वास्थ्य विभाग को कोरोना के मामलों की जानकारी नहीं मिल पा रही है। इससे कोरोना केसों के फैलाव में विभाग को खासी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ सकता है।

उन्होंने बताया कि लैब द्वारा आईसीएमआर के पोर्टल पर भी 10 से 15 दिनों के बाद रिपोर्ट अपलोड की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार यह तो एक उदाहरण हो सकता है। फरीदाबाद जिले में कई ऐसे निजी लैब हो सकती हैं, जोकि कोरोना के सैंपल लेकर प्राईवेट अस्पतालों से मिलीभगत कर ऐसा कर सकती हैं। यह बेहद ही घातक स्थिति हो सकती है तथा कोरोना की दिशा में स्वास्थ्य विभाग को इससे खासी परेशानी होने की संभावना है। इसलिए ऐस स्थिति को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने थाना एसजीएम नगर में इस लैब के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की सिफारिश की है।