फरीदाबाद नगर निगम के कर्मचारियों को ही नहीं पता सफाई के बारे में? अब पढ़ाया जाएगा सफाई का पाठ

News24ncr/Faridabad: स्वच्छ भारत मिशन (एसबीएम) के तहत अब नगर निगम के अधिकारियों और कर्मचारियों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया जाएगा। इसके लिए प्रशिक्षण कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी। एसबीएम के शहरी पोर्टल पर जो कोर्स हैं, उनसे अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा। वीडियो के माध्यम से सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को घर-घर से कचरा एकत्र करने तथा ठोस कचरा प्रबंधन नियम 2016 के बारे जानकारी दी जाएगी। सिगल यूज प्लास्टिक की हानियों के बारे में विस्तार से बताया जाएगा, जिससे कि अधिकारी आगे चलकर सोसायटी को भी जागरूक कर सकें। 

प्रशिक्षण कार्यशालाओं में एसबीएम के विशेषज्ञ अहम भूमिका निभाएंगे। नगर निगम में ऐसे कई अधिकारी, कर्मचारी हैं, जो एसबीएम से पूरी तरह वाकिफ नहीं हैं। कार्यशालाओं में अलग-अलग समूह बना कर संयुक्त आयुक्त, मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता, कार्यकारी अभियंता तथा सभी एसडीओ को आमंत्रित किया जाएगा।

बता दें कि नए वर्ष में जनवरी में स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 शुरू होने वाला है। पिछले वर्षों में स्वच्छता सर्वेक्षण के मामले में इंदौर लगातार अव्वल रहा है। इंदौर नगर निगम से सबक लेते हुए फरीदाबाद नगर निगम ऐसे प्रयोग कर रहा है, जिससे स्वच्छता सर्वेक्षण की स्थिति बेहतर हो सके। इंदौर में भी निगम के अलग-अलग शाखाओं के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को एसबीएम से जोड़ा गया था और उन्हें प्रशिक्षित किया गया था। इंदौर नगर निगम के सलाहकार रहे आदित्य शर्मा को फरीदाबाद नगर निगम में प्रोजेक्ट इंपलीमेंट यूनिट (एसबीएम)का लीडर बनाया गया है। हमारा प्रयास है कि सभी विभागों के अधिकारी और कर्मचारी एसबीएम को समझें। स्वच्छता के मामले में हर नागरिक भी अपनी जिम्मेदारी निभाए। अलग-अलग शाखाओं के अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

डा. यश गर्ग, निगमायुक्त: हम प्रशिक्षण कार्यशाला में एसबीएम की 5 से 15 मिनट की वीडियो दिखाएंगे। केंद्र की इस वीडियो के माध्यम से स्वच्छता के अहम पहलुओं से सबको अवगत कराया जाएगा।

आदित्य शर्मा, टीम लीडर, प्रोजेक्ट इंपलीमेंट यूनिट, एसबीएम।