पुलिस नें तोड़ी किशोर कि टाँग? लॉकडाउन के बीच घर से दूध लेने गया था।

News24NCR/Faridabad: देशभर में चल रहे लॉकडाउन के बीच फ़रीदाबाद शहर में एक नाबालिग को सुबह नवरात्रों कि पूजा के लिए फ़ूल और दूध ख़रीदने जाना महँगा पड़ गया। ओल्ड फ़रीदाबाद में रहने वाला 16 वर्षीय मोहित जब सुबह 8 बजे के क़रीब अपने घर से स्कूटी पर नवरात्रों कि पूजा के लिए फूल और दूध ख़रीदने के लिए निकला तो नगर निगम कार्यालय के पास तैनात पुलिसकर्मी नें डंडा मार कर उसकी टाँग तोड़ दी, ये आरोप लगाते हुए मोहित के पिता फूँट-फूँट कर रोने लगे।

शराब के नशे में था पुलिसकर्मी?
मोहित कि माँ का पुलिस पर आरोप है कि डंडा मारने वाले पुलिसकर्मी नें शराब पी हुई थी लेकिन पुलिस प्रवक्ता का कहना है कि ड्यूटी के दौरान पुलिसकर्मी नें शराब का सेवन नहीं किया था जिसकी मेडिकल रिपोर्ट में पुष्टि की गयी है।

सीसीटीवी फ़ुटेज में पुलिस ने लगाया कट?
इसके साथ ही पुलिस की तरफ़ से घटना स्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरे कि फ़ुटेज भी मीडिया को जारी की गयी है जिसमें पुलिसकर्मी के हाथ में डंडा साफ़ नज़र आ रहा है साथ ही नाबालिग को उठाते हुए नज़र आ रहा है लेकिन उस विडीयो में चल रहे टाइम को देखने पर पता चलता है कि उसमें 6 सेकिंड का कट लगा हुआ है जिसमें किशोर सीधा गिरते हुए दिखायी पड़ रहा है।

नाबालिग को करवाया अस्पताल में भर्ती

पुलिस ने नाबालिग मोहित को सर्वोदय अस्पताल में भर्ती करवाया है, इस बारे में जब एसीपी आदर्शदीप से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि स्कूटी चलाने वाला युवक नाबालिग है उसके पास लाइसेंस नहीं है और वो फिसल कर स्कूटी से गिरा है। लेकिन इसके साथ ही जब पुलिस द्वारा जारी की गयी सीसीटीवी फ़ुटेज को देखते है तो पता चलता है कि उसको एडिट किया गया है।