देश में कोरोना केस 50 लाख के पार, विश्व में दुसरे नंबर पर पहुंचा भारत, सरकार का ध्यान बिहार चुनाव पर

News24ncr/Faridabad: कोरोना वायरस ने देश को आज चिंता में दाल दिया है आज भारत में कोरोनावायरस के केस 50 लाख के पार पहुंच गए हैं. 50 लाख कोरोना के केस दर्ज करने वाला भारत विश्व का दूसरा देश बन गया है. इसके साथ ही पिछले 24 घंटों में देश में अब तक की सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं. 16 सितंबर की सुबह तक पिछले एक दिन में सबसे ज़्यादा 1,290 लोगों की मौत हुई है. वहीं, पिछले 24 घंटे में 90,123 मामले सामने आए हैं.

भारत में 50 लाख का आंकड़ा पार होने के बाद कुल मामलों की संख्या 50,20,359 चल रही है. वहीं, एक दिन में आने वाले मामलों की बात करें तो पिछले कुछ दिनों से लगातार देश में रोज 90 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. मंगलवार को 83 हजार से कुछ ज्यादा मामले सामने आए थे.

अगर अहम आंकड़ों पर नजर डालें तो देश में कुल मामलों में से 19.83% यानी 9,95,933 मरीज एक्टिव हैं. रिकवरी रेट 78.52% चल रहा है. मृत्यु दर 1.63% और पॉजिटिविटी रेट- 8.06% पर चल रही है. पिछले 24 घंटों में 11,16,842 टेस्ट हुए हैं. वहीं देश में अब तक कुल 5,94,29,115 टेस्ट हो चुके हैं.

इस वायरस के लगातार देश में पैर पसारने के बाद जहाँ सरकार में चिंता नजर आनी थी, वहाँ लोगो को सरकार बिहार चुनाव में व्यस्त नजर आ रही है। पहले तो लोगो ने लापरवाही बरतते हुए कोरोना को हाशिये पर रखा ही था लेकिन सरकार को इसकी रोकथाम के पुख्ता इंतजाम करने चाहिए थे लेकिन जैसे जैसे कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है, वैसे वैसे सरकार लॉकडाउन को खोलती जा रही है।

वैसे देश में अब तक कुल 39 लाख से ज्यादा मरीज ठीक भी हुए हैं. अब तक कुल ठीक हुए मरीजों की संख्या 39,42,360 है. वहीं, पिछले 24 घंटे में 82,961 मरीज ठीक हुए हैं. पिछले 24 घंटों में हुई 1290 मौतों के साथ अब तक हुई कुल मौतों का आंकड़ा 82,066 पर पहुंच गया है.

अगर भारत में प्रति पांच लाख नए केस जुड़ने की रफ्तार को देखें तो यह 39 दिन की अवधि से पांच दिन पर पहुंच गया है. यानी हम हर पांचवें दिन नए पांच लाख केस जोड़ रहे हैं. यानी एक दिन में लगभग एक लाख मामले. एक बार आंकड़ों पर नजर डालते हैं.

भारत में कुल 230 दिनों में 50 लाख कोरोना मामले सामने आए

  • 1-5 लाख मामले : 39 दिन
  • 5-10 लाख मामले : 20 दिन
  • 10-15 लाख मामले: 12 दिन
  • 15- 20 लाख मामले : 9 दिन
  • 20- 25 लाख मामले : 8 दिन
  • 25-30 लाख मामले: 8 दिन
  • 30-35 लाख मामले: 7 दिन
  • 35-40 लाख मामले: 6 दिन
  • 40-45 लाख मामले: 6 दिन
  • 45-50 लाख मामले: 5 दिन