दिल्ली में हिंसा पर सियासत गर्म, शांति संदेश के नाम कपिल मिश्रा का जंतर मंतर पर जमावड़ा

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता कपिल मिश्रा दिल्ली हिंसा में मरने वाले लोगों को श्रद्धांजलि देने और शांति संदेश मार्च का जंतर-मंतर पर आयोजन किया. इस दौरान उनके समर्थक वहां मौजूद थे. समर्थक तिरंगा और तख्तियां लेकर प्रदर्शन कर रहे थे. प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में ताहिर हुसैन के खिलाफ लिखे बैनर लिए हुए थे. कार्यक्रम के मंच पर शहीद पुलिसकर्मी रतन लाल, आईबी ऑफिसर अंकित शर्मा और एक अन्य शख्स विनोद की फोटो लगाई गई है.

दिल्ली हिंसा में मारे गए अधिकारी अंकित शर्मा के घर जाने को लेकर कपिल मिश्रा ने सवाल उठाए. केजरीवाल को टैग करते हुए उन्होंने कहा, ”दिल्ली से दूर, अखलाक के घर तुरंत दौड़कर जाने वाले केजरीवाल को मुख्यमंत्री निवास से सिर्फ 7 किमी दूर अंकित शर्मा के घर जाने का टाइम अभी तक नहीं मिला. अंकित के घर भी जाओ.”

‘जंतर मंतर. आप सभी जरूर आइये’

इससे पहले उन्होंने ट्वीट कर कहा था, ”आज सुबह 10:30 बजे. जंतर मंतर. आप सभी जरूर आइये.” उन्होंने कहा था, ”दोस्तों, दिल्ली के दंगों में पीड़ित परिवारों की मदद के लिए, उन्हें दुबारा खड़ा करने के लिए. आपकी मदद की जरूरत है. साथ दीजिए.”

बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक दंगे शुरू होने से पहले कपिल मिश्रा के नफरत भरे भाषण देते हुए वीडियो वायरल हुआ था.

हिंसा प्राभावित क्षेत्र

हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएम रंधावा ने बताया कि फॉरेसिंक टीम ने क्राइम सीन का दौरा किया. इसके साथ ही सोशल मीडिया की भी मॉनिटरिंग हो रही है. स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम सबूत इकट्ठे कर रही है. हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हो गई है. हिंसा में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं.

दिल्ली हिंसा में मुख्य रूप से जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खजूरी खास और भजनपुरा शामिल हैं.

शांति बहाली की कोशिश

हिंसा के बाद अब दिल्ली पुलिस ने जनता को समझाने का काम शुरु कर दिया है. शांति बहाली की कोशिश में पुलिस जनता से संवाद कर रही है. कोशिश है कि जनता के मन में फैले डर को खत्म किया जा सके.

हिंसा वाले इलाकों में भारी सुरक्षाबल तैनात है. हालांकि 26 फरवरी की शाम के बाद से अबतक हिंसा की कोई खबर नहीं आई है. हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्व जिले के खजुरी खास और दयालपुर इलाकों में भारी सुरक्षाबल तैनात हैं.