ग्रेटर फरीदाबाद में नहीं बनेगा कूड़ाघर, लोगों के भारी विरोध के मद्देनजर लिया गया फैसला

News24ncr/Faridabad: ग्रेटर फरीदाबाद में स्मार्ट सिटी का कूड़ा घर नहीं बनाया जाएगा। इसके लिए शहर में दूसरी जगह तलाश की जाएगी। सेक्टर-12 स्थित हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कन्वेशन हॉल में मंगलवार को हुई नगर निगम सदन की बैठक में यह फैसला किया गया। सुबह 11 बजे से शाम छह बजे तक चली सदन की बैठक में 69 प्रस्ताव रखे गए, जिनमें से अधिकांश को पास कर दिया गया। सदन की अध्यक्षा मेयर सुमन बाला ने की।

एनजीटी के आदेश पर कूड़ाघर: नगर निगम आयुक्त यश गर्ग ने बताया कि एनजीटी के आदेश पर शहर में कूड़ाघर बनाया जाना है। बंधवाड़ी कूड़ा निस्तारण प्लांट में रोज गुरुग्राम-फरीदाबाद से 1800 टन फ्रेश कूड़ा हर रोज जाता है। बंधवाड़ी में कूड़े से एनर्जी बनाने का प्लांट प्रस्तावित है। इसमें एक वर्ष लगेगा, तब तक के लिए गुरुग्राम और फरीदाबाद निगम को शहर का फ्रेश कूड़ा बंधवाड़ी नहीं भेजने के आदेश दिए गए हंै। दोनों शहरों में फ्रेश कूड़ा शहर में ही रोकना के आदेश हैं। इसके तहत सीही में वैकल्पिकव्यवस्था की जानी थी। लोगों के विरोध को देखते हुए फिलहाल सिही में कूड़ा घर बनाने पर रोक लगा दी है।

एसटीपी के लिए गुरुकुल से जमीन लेगा निगम: सूरजकुंड में सीवरेज व्यवस्था को मजबूत करने के लिए नगर निगम गुरुकुल से जमीन लीज पर लेगा। हरियाणा पर्यटन निगम द्वारा जमीन न देने पर निगम प्रशासन ने इस दिशा में कदम उठाया है। निगमायुक्त ने सदन बैठक में यह जानकारी दी। पार्षद जितेंद्र भड़ाना कहा कि उनके इलाके में 45 करोड़ रुपये की लागत से सीवरेज और पानी की पाइप लाइन बिछाने का काम चल रहा है, अब इसके के लिए जमीन लीज पर ली जाएगी।