खुशख़बरी: सरकारी स्कूल के 8वीं से 12वीं तक के छात्रों को मुफ़्त टेबलेट दे रही खट्टर सरकार

News24NcR/Chandigarh: हरियाणा सरकार ने अगले शैक्षणिक सत्र की शुरुआत से पहले राज्य के सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले कक्षा 8वीं से 12वीं तक के सभी छात्रों को मुफ्त टैबलेट (टैब) वितरित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। शिक्षण सामग्री और पाठ्यपुस्तकों से प्री-लॉडिड कंटेंट के साथ 8.20 लाख टैब वितरित किए जाएंगे। इससे छात्रों के सीखने की क्षमता में वृद्धि होगी और वे कक्षा में व बाहर तथा घर पर भी ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल आज यहां स्कूल शिक्षा विभाग की एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने टैब के वितरण की तैयारियों की समीक्षा की।

बैठक में निर्णय लिया गया कि ये टैब छात्रों को पुस्तकालय की किताबों की तरह जारी किए जाएंगे, जिन्हें छात्र 10वीं और 12वीं की परीक्षा के बाद वापस लौटाएंगे।

बैठक में बताया गया कि छात्रों को इन टैब के माध्यम से उन्नत शिक्षा मिलेगी और वे  कक्षा में व बाहर तथा घर पर भी पढ़ाई करने में सक्षम होंगे। यह टैब प्री-लॉडिड ई-कंटेंट से लैस होंगे, इसमें ‘अवसर एप ऑनलाइन सामग्री’, पीडीएफ पुस्तकें, क्यूआर कोडिड एनसीईआरटी सामग्री, एजुसेट वीडियो, दीक्षा ऑनलाइन सामग्री, शिक्षकों द्वारा तैयार किए गए यू-टयूब वीडियो, शिक्षकों द्वारा तैयार किए गए प्रश्न बैंक और राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (नीट), संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई), राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनईडीए) और राष्ट्रीय शिक्षक परीक्षा (एनटीई) जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी से संबंधित सामग्री शामिल है। सभी शिक्षा सामग्री एक एन्क्रिप्टेड डाटा कार्ड में प्री-लोडिड होगी, जिससे छात्र अध्ययन कर सकेंगे, मॉक टेस्ट दे सकेंगे और आगामी परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए पिछले वर्ष के पेपर भी देख सकेंगे।

बैठक में बताया गया कि इन टैब के उचित उपयोग को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से टैब में मोबाइल डिवाइस प्रबंधन (एमडीएम) अपलोड किया जाएगा। एमडीएम प्रत्येक छात्र के डिवाइस उपयोग, लॉग-इन नहीं करने वालों का भौतिक सत्यापन करने सहित डिवाइस की ट्रैकिंग रखेगा और टैब की बिक्री के खिलाफ निगरानी भी सुनिश्चित करेगा। छात्र टैब का उपयोग केवल अपनी पढ़ाई के लिए करेंगे और वे किसी भी अवांछित वेबसाइट का उपयोग नहीं कर पाएंगे और न ही कोई अन्य सामग्री को डाउनलोड कर पाएंगे।

बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी. एस. ढेसी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री वी. उमाशंकर, स्कूल शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. महावीर सिंह, महानिदेशक प्राथमिक शिक्षा और स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव श्री नितिन यादव, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री अमित कुमार अग्रवाल, निदेशक माध्यमिक शिक्षा श्री जे. गणेशन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।