खुशखबरी: जल्द चलेगी फरीदाबाद से गुरुग्राम मेट्रो ट्रेन, यात्रियों को मिला तोहफा

News24NCR/Faridabad: फरीदाबाद व गुरूग्राम जाने वाले हजारों लोगाों को बड़ी राहत मिलने वाली है। जल्द ही फरीदाबाद व गुरूग्राम के बीच मेट्रो रेल चलाने की लगभग तैयारी कर ली गई है। यदि सारी योजना सही तरीके से अमल में लाई गई तो वह दिन दूर नहीं, जब औद्योगिक नगरी फरीदाबाद व साईबर सिटी के बीच मेट्रो  रेल चलती हुई दिखाई देगी। इस परियोजनो की डीपीआर( डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) तैयार हो गई है। मेट्रो परियोजना में किसी भी रूट पर टे्रन चलाने के लिए डीपीआर रिपोर्ट सबसे मजबूत कड़ी मानी जाती है। डीपीआर तैयार, मतलब परियोजना की शुरूआत।

  • 3 साल देरी से बढ़ गई लागत-

डीपीआर के अनुसार फरीदाबाद व गुरूग्राम के बीच का रूट भी तैयार हो गया है। विधानसभा की कमेटी ने इस रूट पर अपनी मोहर लगा दी है। बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस परियोजना की स्वीकृति वर्ष 2015 में की थी। लेकिन समय रहते इस पर काम शुरू नहीं हो पाया। जिसके चलते यह परियोजना करीब तीन साल लेट हो गई । इसका नुक्सान यह हुआ कि इस परियोजना पर एक हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ बढ़ गया है। पहले इस परियोजना पर 5900 करोड़ की लागत आनी थी, लेकिन अब यह बढक़र 6900 करोड़ हो गई है।

  • ये होगा मेट्रो  रेल का रूट-

इसके बावजूद यह परियोजना अब शुरू होती दिखाई देने लगी है। इसी साल मार्च में इस परियोजना की डीपीआर फाईनल हो पाई है, जिसे विधानसभा की अंडरटेकिंग कमेटी ने भी चर्चा के बाद पास कर दिया है। इस परियोजना के लिए फरीदाबाद व गुरूग्राम के बीच जो रूट तैयार किया गया है, उसमें मेट्रो  रेल फरीदाबाद के बाटा चौक से होते हुए अरावली गोल्फ क्लब, बडख़ल एंकलेव, पाली के्रशर जोन, मांगर पुलिस चौकी से होते हुए गुरूग्राम के मांडी एवं सैक्टर 56 वाटिका चौक तक जाएगी। हालांकि इससे पहले उपरोक्त स्टेशन के अलावा प्याली चौक को भी इसमें शामिल किया गया था। लेकिन अब उस रूट को हटा दिया गया है। यानि कि प्याली स्टेशन का रूट इस डीपीआर में शामिल नहीं किया गया है।

  • इतने किलोमीटर का होगा सफर-

फरीदाबाद व गुरूग्राम के बीच का यह सफर करीब 31 किलोमीटर का होगा और इस रूट पर आठ मेट्रो स्टेशन बनाए जाएंगे। यही नहीं बल्कि इस मेट्रो रूट के इस रास्ते में बाटा चौक एवं अरावली गोल्फ क्लब तक दो अंडरगाऊंड लाईन भी डाली जानी है। इस परियोजना में 6 एलीवेटिड लाईन भी शामिल की गई हैं। माना जा रहा है कि इस परियोजना के शुरू होन की लगभग सारी तैयारी हो गई है। बस इसके उदघाटन की तिथि तय की जानी है।