कर्मचारियों के डी.ए. की कटौती के विरोध में एक दिन का उपवास रखेंगे जितेंद्र चंदेलिया।

News24NCR/Faridabad: कोरोना संकट में अपने प्राणों कि परवाह किए बिना दिन रात काम कर रहे सफ़ाई कर्मचारियों व अन्य कर्मचारियों के डी.ए. की कटौती पूर्ण रूप से अमानवीय है,यह कहना है वीर एकलव्य दल क्ष व सफ़ाईमज़दूर कांग्रेस के प्रदेश अध्य जितेंद्र चंदेलिया का। चंदेलिया ने बताया कि इसके लिए वह दिन काउपवास रख कर अपना विरोध दर्ज कराएँगे।

उन्होंने ठेका प्रथा को भी कर्मचारियों पर हो रहे जुल्म की संज्ञादी है, चंदेलिया का कहना है कि किसान, मज़दूर व बेरोज़गारों की समस्या को सरकार गम्भीरता से लेते हुएइन लोगो को भोजन के साथ साथ आर्थिक सहायता भी मुहैया करवाए। व इस लोकडाउन में फँसे मज़दूरोंको उनके गंतव्य पर पहुँचाने का काम करे।

ठेका प्रथा एक अभिशाप है, ठेकाप्रथा ना कि सिर्फ़ हरियाणा मेंबल्कि पूरे देश में बंद होनी चाहिए। सफ़ाई कर्मचारी बिना संसाधनों के कोरोना महामारी से लड़ने का कामकर रहे है, उन्हें इसका पूर्ण मान सम्मान ठेका प्रथा बंद करने के रूप मिलना चाहिए।