एनआईटी में चला रहे थे कैसीनो, क्राइम ब्रांच ने किए गिरफ़्तार।

News24NCR/Faridabad: क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 ने घर में कैसीनो खिलाने वाले मुख्य आरोपी सहित 6 आरोपियों को किया गिरफ्तार। एनआईटी पांच नंबर स्थित एक घर में चल रहा था कैसीनो।

आरोपियों के कब्जे से ₹48000 रुपए कीमत की 240 कैसीनो कॉइन, 15380 रुपए कैश, 104 प्लेइंग कार्ड किए बरामद।

क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 प्रभारी इंस्पेक्टर विमल राय और उनकी टीम ने जुआ खेलने वाले 6 आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए nit-5 से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार 6 आरोपी गुलशन, राजेश, दिविक उर्फ बिट्टू, करण, पारस, वरुण एनआईटी एरिया के रहने वाले हैं।

एसीपी श्रीमती धारणा यादव ने बताया कि क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 प्रभारी इंस्पेक्टर विमल राय को सूचना मिली थी कि एनआईटी नंबर 5 में एक घर में टोकन के आधार पर जुआ खेला जा रहा है। क्राइम ब्रांच प्रभारी ने अपनी टीम सहित आरोपियों को दबोचने के लिए nit-5 स्थित एक घर में छापा मारा। जिस दौरान उपरोक्त 6 आरोपी जुआ खेलते हुए मिले। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने कार्यवाही करते हुए उनके खिलाफ थाना एनआईटी में गैंबलिंग एक्ट के अनुसार मुकदमा दर्ज किया है।

मौके से पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से ₹48000 रुपए कीमत की 240 कैसीनो कॉइन, 15380 रुपए कैश, 104 प्लेइंग कार्ड बरामद किए हैं। गिरफ्तार आरोपी राजेश मुख्य आरोपी है जोकि अपने घर में जुआ खिलाने का काम करता है।

पूछताछ में मुख्य आरोपी राजेश ने बतलाया की मै अपने मकान NIT-5 में कसीनो चला रहा था जो मै खेलने वाले फन्टर (खिलाड़ी) को दिन में ही कोइंस बेच देता था, जिनकी कीमत 100 रूपये से 2000 रूपये तक होती है। रात को खेलते समय सभी खिलाड़ी अपने-अपने कोइंस को लेकर मेरे घर में इकठा हो जाते थे और जो नहीं आ पाते हैं वह व्हाट्स एप व मोबाइल काल के जरिये खेल की ऑनलाइन बोली लगाते थे।

आरोपी ने बताया कि टोकन हार जाने या जीत जाने पर अगले दिन ही हिसाब कर देता था। इस दौरान कई बार फ़ार्म हाउस, होटल का कमरा इत्यादि बुक करवाया जाता था ताकि पुलिस को इस काम की भनक ना लगे इसके लिए हर सप्ताह अलग अलग जगह का चुनाव किया जाता था जिसकी लोकेशन खिलाडियों के पास व्हाट्स एप ग्रुप पर भेज दी जाती थी।